वन्य जीवन एवं पर्यावरण

International Journal of Environment & Agriculture ISSN 2395 5791

Breaking

बीती सदी में बापू ने कहा था

"किसी राष्ट्र की महानता और नैतिक प्रगति को इस बात से मापा जाता है कि वह अपने यहां जानवरों से किस तरह का सलूक करता है"- मोहनदास करमचन्द गाँधी

ये जंगल तो हमारे मायका हैं

Showing posts with label dudhwa tiger reserve. Show all posts
Showing posts with label dudhwa tiger reserve. Show all posts

Jul 26, 2019

Jan 3, 2018

सिने अभिनेता रणदीप हुड्डा ने पद्मभूषण बिली अर्जन सिंह को दी पुष्पांजलि

January 03, 2018 0
बाघ सरंक्षण पर कार्यशाला का हुआ आयोजन बिली अर्जन सिंह की आठवीं पुण्यतिथि पर जसवीर नगर पलिया में दुधवा लाइव डॉट कॉम व द लास्ट कॉल संस्...
Read more »

Apr 20, 2017

150 बरस पहले बहराइच के जंगलों में रहता था मोगली

April 20, 2017 0
विलियम स्लीमैन  ब्रिटिश अफसर विलियम स्लीमन ने उत्तर भारत खोजे थे कई वुल्फ बॉय- कतरनिया घाट में मिली वन दुर्गा ही नहीं है अकेली, ...
Read more »

Jan 3, 2017

कुंवर बिली अर्जन सिंह की पुण्यतिथि पर दुधवा नेशनल पार्क में बाघ सरंक्षण पर कार्यशाला

January 03, 2017 4
दुधवा नेशनल पार्क। पलिया - खीरी। पद्मभूषण बिली अर्जन सिंह की पुण्यतिथि पर दुधवालाइव डॉट कॉम द्वारा बिली की स्मृति में वन्य जीव सरं...
Read more »

Dec 9, 2016

रूपक डे बने उत्तर प्रदेश के प्रमुख मुख्य वन सरंक्षक

December 09, 2016 0
बीसवीं सदी के आखिर में रूपक डे दुधवा टाइगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर के पद पर भी रहे है आसीन. 9 दिसम्बर -लखनऊ:  आई ऍफ़ एस  डॉ. रूपक...
Read more »

Nov 28, 2015

नेशनल कैडेट कोर कैम्प ओयल जनपद खीरी में पर्यावरण जागरूकता कार्यशाला

November 28, 2015 0
। जंगल बाघ और बिली ओयल-खीरी। नेशनल कैडेट कोर कैम्प, युवराजदत्त इंटर कालेज ओयल में आयोजित पर्यावरण कार्यशाला में जिले के तमाम विद्य...
Read more »

Jan 10, 2015

कतरनियाघाट वाइल्ड लाइफ सैंक्चुरी में एक तेंदुए की मौत

January 10, 2015 0
इस तरह तो विलुप्त हो जाएगा तराई के जंगलों से तेंदुआ  शिकार और सड़क दुर्घटनाओं के कारण तेंदुए की संख्या बहुत कम हो चुकी है तराई के ...
Read more »

Jan 1, 2015

तराई के जंगलों के मसीहा थे बिली अर्जन सिंह

January 01, 2015 0
वन्य जीवन की विधाओं के पितामह को श्रद्धांजली    शिकारी से वन्य जीव सरंक्षक बनने की दास्तान  १५ अगस्त सन १९१७ को जन्मे बिली अर्जन...
Read more »

Oct 20, 2014

Jun 17, 2014

जर्मनी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार "द बॉब्स" से सम्मानित पत्रिका "दुधवा लाइव"

हस्तियां

पदम भूषण बिली अर्जन सिंह
दुधवा लाइव डेस्क* नव-वर्ष के पहले दिन बाघ संरक्षण में अग्रणी भूमिका निभाने वाले महा-पुरूष पदमभूषण बिली अर्जन सिंह

एक ब्राजीलियन महिला की यादों में टाइगरमैन बिली अर्जन सिंह
टाइगरमैन पदमभूषण स्व० बिली अर्जन सिंह और मैरी मुलर की बातचीत पर आधारित इंटरव्यू:

मुद्दा

क्या खत्म हो जायेगा भारतीय बाघ
कृष्ण कुमार मिश्र* धरती पर बाघों के उत्थान व पतन की करूण कथा:

दुधवा में गैडों का जीवन नहीं रहा सुरक्षित
देवेन्द्र प्रकाश मिश्र* पूर्वजों की धरती पर से एक सदी पूर्व विलुप्त हो चुके एक सींग वाले भारतीय गैंडा

Post Top Ad

Your Ad Spot