वन्य जीवन एवं पर्यावरण

International Journal of Environment & Agriculture ISSN 2395 5791

Breaking

ये जंगल तो हमारे मायका हैं

बीती सदी में बापू ने कहा था

"किसी राष्ट्र की महानता और नैतिक प्रगति को इस बात से मापा जाता है कि वह अपने यहां जानवरों से किस तरह का सलूक करता है"- मोहनदास करमचन्द गाँधी

Dec 31, 2014

Dec 28, 2014

खीरी के जंगलों से बाहर आबादी में घुसपैठ कर रहे हैं हाथी आखिर क्यों?

December 28, 2014 0
जंगली हाथियों ने बारह एकड़ गन्ना बर्बाद किया दलराजपुर गांव में हाथियों का धावा खैरागौढ़ी जंगल से अक्सर निकलता है झुंड फोटो : गुरुव...
Read more »

Dec 27, 2014

Dec 26, 2014

Dec 24, 2014

और आज भी यह जय जवान जय किसान वाली धुन पर थिरकता हुआ..

December 24, 2014 2
किसान- फोटो: आशीष सागर  किसान की कथा-व्यथा  -कृष्ण कुमार मिश्र आज फिर हमारे लखीमपुर खीरी के अवधीकवि व् प्रजा सोशलिस्ट पार्टी के त...
Read more »

Dec 23, 2014

Dec 18, 2014

Dec 16, 2014

आखिर क्यों निकलना पड़ता है इन्हें अपने जंगलों से बाहर...

December 16, 2014 0
अर्धवयस्क बाघिन को बेहोश कर रेस्क्यू दल उसे रेडियो कॉलर पहनाते हुए  बाघ शावक ने खेत में बंधी गाय का किया शिकार  पन्ना टाइगर रिजर...
Read more »

Dec 15, 2014

देखने काबिल है पन्ना के लखनपुर सेहा का मशरूम रॉक

December 15, 2014 0
पन्ना शहर के निकट स्थित लखनपुर सेहा का मशरूम रॉक  जैव विविधता से परिपूर्ण है यहां का घना जंगल पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र बन सकत...
Read more »

Dec 12, 2014

एक लालची करुणाहीन शिकारी की तरह जिसकी हवस अंतहीन है.....

December 12, 2014 1
प्रवासनामा एक बहुत सुन्दर शब्द ...असल में हम सभी प्रवासी ही तो है। धरती पर इंसान और जानवर में फर्क इतना है की सभ्यता के विकास के साथ...
Read more »

Dec 11, 2014

एशिया पेसिफिक मंथन पुरस्कार २०१४ में दुधवा लाइव को किया गया नामित

December 11, 2014 0
नई दिल्ली: इंडिया हैविटेट सेंटर में चार दिसम्बर को आयोजित एशिया पेसिफिक मंथन पुरस्कार २०१४ में दुधवा लाइव डिजिटल मैगजीन व् दुधवा लाइ...
Read more »

जर्मनी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार "द बॉब्स" से सम्मानित पत्रिका "दुधवा लाइव"

मुद्दा

क्या खत्म हो जायेगा भारतीय बाघ
कृष्ण कुमार मिश्र* धरती पर बाघों के उत्थान व पतन की करूण कथा:

दुधवा में गैडों का जीवन नहीं रहा सुरक्षित
देवेन्द्र प्रकाश मिश्र* पूर्वजों की धरती पर से एक सदी पूर्व विलुप्त हो चुके एक सींग वाले भारतीय गैंडा

हस्तियां

पदम भूषण बिली अर्जन सिंह
दुधवा लाइव डेस्क* नव-वर्ष के पहले दिन बाघ संरक्षण में अग्रणी भूमिका निभाने वाले महा-पुरूष पदमभूषण बिली अर्जन सिंह

एक ब्राजीलियन महिला की यादों में टाइगरमैन बिली अर्जन सिंह
टाइगरमैन पदमभूषण स्व० बिली अर्जन सिंह और मैरी मुलर की बातचीत पर आधारित इंटरव्यू:

Post Top Ad

Your Ad Spot